हैप्पी मदर्स डे इमेज happy mother's day image for whatsapp

Post a Comment

 हैप्पी मदर्स डे इमेज 2022 happy mother's day status poetry, poems in Hindi with image, download mothers day wishes images for WhatsApp Snapchat, mothers day share chat pics.

Cute Hindi Poetry on mother

मुझे हर हाल में बक्से गए उजाला अपना

चाँद रिश्ते में नहीं लगता है मामा अपना।

मैंने रोते हुए किसी दिन पोंछे थे आंसू 

मुदतो माँ न नहीं धोया दुपट्टा अपना।

______________________________

उम्र भर हमने खाली  यु ही मकान रहने दिया

तुम गए तो दूसरे को कब यंहा रहने दिया।

मैंने कल सब चाहतो की किताबे फाड़  दी

सिर्फ एक कागज पर लिखा सब्द माँ रहने दिया।


mothers day shayari in hindi हैप्पी मदर्स डे इमेज

Hindi poem on mother day poetry in Hindi

ऐसा नहीं माँ को बनाकर 
खुदा ने कोई जस्न मनाया
सच तो ये है की वो बहुत 
पछताया क्यों की उसका

एक एक जादू किसी और 
ने चुराया वो जान भी न पाया
खुदा का काम था
 मोहब्बत वो माँ करने लगी।

हिफाज़त खुदा का काम था 
वो माँ करने लगी
खुदा का काम था वरकत वो 
भी माँ करने लगी।
देखते ही देखते उसके आँखों 

के सामने कोई और 
परवर दीगर हो गया
उसने बहुत पछताया की उसने 
माँ को बनाकर खुदा
 बेरोजगार हो गया।

mothers day wallpaper photo download हैप्पी मदर्स डे इमेज 

हैप्पी मदर्स डे इमेज

Poetry on mother in Hindi


फिर कलैंडर पर दिन रात साल ।
बदले माँ ने अपना घर बदल लिया
पर मेरी ज़िंदगी में कुछ खास नहीं बदला।।

वक्त के हाथो दिल  आज भी दुखता है 
आँखे आज भी लाल होती है।
बस वो दिया बुझ गया घर में
 उजाला था जिसके होने से।।

वो जासूस चला गया जो 
आँखे देखकर जान लेता था
की आँख सोने से लाल हुई या रोने से।

हैप्पी मदर्स डे इमेज mothers day wallpaper image for WhatsApp

हैप्पी मदर्स डे इमेज happy mothers day 2021

माँ पर सबसे अच्छी शायरी कविता पोएम  poetry on mother in hindi 

Best poem shayari poetry on mother in hindi


inspirational poem on mother in Hindi

बुलंदी देर तक किस शख्स 
 के हिस्से में रहती है
बहुत अच्छी ईमारत हर 
घडी खतरे में रहती है।

बहुत जी चाहता है की
 यहां से हम निकल जाऊं
तेरी यादे भी इसी
 मलबे में रहती है।

ये ऐसा कर्ज है जो मैं 
अदा कर ही नहीं सकता
मैं जब तक घर न लौटू 
मेरी माँ सजदे में रहती है।

मेरी खुवाईश है की मैं 
फिर से फरिश्ता  हो जाऊ
माँ से इस तरह लिपट
 जाऊ की बच्चा हो जाऊ।

कम से कम बच्चो की 
इन हसी के खातिर
ऐसे मिटटी में मिलाना की
 खिलौना हो जाऊ।

Related Posts

Post a Comment