-->

Best love status romantic Shayari for instagram

मैने कहा की बहुत प्यार आता है तुम पर, वो मुस्कुरा के बोले ओर तुम्हे आता ही क्या है.

romantic mood love shayrai

मैं जो चाहूँ तो अभी तोड़ लूँ नाता तुम से, पर मैं बुज़-दिल हूँ मुझे मौत से डर लगता है ..

ये मुझे चैन क्यूँ नही पड़ता, एक ही शख्स था जहाँ मे क्या.

मैं उसका हूँ, यह तो मैं जान गया हू लेकिन, वो किस का है, ये सवाल मुझे सोने नही देता

चलो अच्छा हुआ काम आ गयी दीवानगी अपनी, वरना हम ज़माने भर को समझाने कहाँ जाते

वो करम उंगलियों पे गिनते हैं, ज़ुल्म का जिनके कुछ हिसाब नही..

हम दूर तक यूँ ही नही पहुँचे फ़राज़, कुछ लोग कंधा देने आ गये थे....

अपने सिवा बताओ कभी कुछ मिला भी है तुम्हें, हज़ार बार ली हैं तुमने मेरे दिल की तलाशियाँ..

मेरी बहादुरी के किससे मशहूर थे शहर में, तुझे खो जाने के डर ने कायर बना दिया..

ज़िंदगी में इस से बढ़ कर रंज क्या होगा फ़राज़ उसका ये कहना की तू शायर है दीवाना नही...

वो मेरा सब कुछ हे बस मेरा मुक़द्दर नही, काश वो मेरा कुछ भी ना होता सिर्फ़ मुक़द्दर होता..

कुछ ऐसे हादसे भी ज़िंदगी मे होते हे  दोस्त, इंसान बच तो जाता हे ,मगर ज़िंदा नही रहता.

कितनी फ़िक्र हे कूदरत को मेरी तन्हाई की, जागते रहते हे रातभर सितारे मेरे लिए.

तू खामोश क्यों है ये तो मालूम नही मगर दिल डूब सा जाता है जब तू खामोश होता है....

गुज़र गया वो वक़्त जब तेरे तलबगार थे हम. अब खुदा भी बन जाओ तो सजदा ना करेंगे..!

किसी की क्या मज़ाल थी जो कोई हमे खरीद सकता .हम तो खुद ही बिक गये खरीददार देखके

ज़िंदगी मे हमेशा नये लोग मिलेंगे, कहीं ज़्यादा तो कहीं कम मिलेंगे, ऐतबार ज़रा सोच कर करना, मुमकिन नही हर जगह तुम्हे हम मिलेंगे

आहिस्ता आहिस्ता आपका यकीन करने लगे हैं आहिस्ता आहिस्ता आपके करीब आने लगे हैं… दिल तो देने से घबराते हैं… मगर आहिस्ता आहिस्ता आपके दिल की कदर करने लगे हैं…

इतना ऐतबार तो अपनी धड़कानों पर भी हमने ना किया, जितना आपकी बातों पर करते हैं, इतना इंतेज़ार तो अपनी साँसों का भी ना किया, जितना आपके मिलने का करते हैं…

उन्हे चाहना हमारी कमज़ोरी है, उनसे कह नही पाना हमारी मजबूरी है, वो क्यूँ नही समझते हमारी खामोशी को, क्या प्यार का इज़हार करना ज़रूरी है…

ए दोस्त कभी मुझे भुला ना देना इस हस्ते हुए चेहरे को कभी रुला ना देना कभी किसी बात पर खफा हो भी जाओ पर मुझसे दूर होकर मुझे जुदाई की सज़ा ना देना

साथ अगर दोगे मुस्कराएँगे ज़रूर, प्यार अगर दिल से करोगे तो निभाएँगे ज़रूर, राह मे कितने काँटे क्यू ना हो आवाज़ अगर दिल से दोगे तो आएँगे ज़रूर

कुछ नशा आपकी बात का है, कुछ नशा धीमी बरसात का है, हमे आप यूही शराबी मत कहिए, ये दिल पर असर आपसे पहली मुलाकात का है…

कफस से ले के चमन तक है एक ही आलम, वो हवस है की हवा मे भी घुट के मर जाउ.

फर्याद कर रही है ये तर्सी हो निगाह, देखे हुए किसी को बहुत दिन गुज़र गये.

उनसे मिलने को जो सोचों अब वो ज़माना नही, घर भी कैसे जाउ उनके  अब तो कोई बहाना नही,, मुझे याद रखना कही तुम भुला ना देना ,माना के बरसों से तेरी गली मे आना जाना नही,,

रूठी सी ज़िंदगी को मनाना तो आता है, लोगों को हसाना तो आता है, क्या हुआ जो ना बस सके किसी के दिल में, लोगों को अपने दिल में बसाना तो आता है.

क्या अच्छा- क्या बुरा क्या भला देखा, जब भी देखा तुझे अपने रु ब रु देखा, सोचा बहुत-  भूलकर सोचु ना तुझे, जिस रात आँख लगी फिर तुझे हर सुबह देखा.

मुझको ऐसा दर्द मिला जिसकी दवा नही फिर भी खुश हूँ मुझे उस से कोई गीला नही

ओर कितने आँसू बहाऊ उस के लिए जिसको खुदा ने मेरे नसीब मैं लिखा ही नही

Similar Topics

एक टिप्पणी भेजें