-->

Sad Poetry in Hindi बहुत कुछ जान के जाना है तुमको

  Sad Kavita on Hindi  Sad Poetry in Hindi bahut kuchh jana hai jaan ke tumko

Sad Poetry in Hindi

बहुत कुछ जान के जाना है तुमको

बड़ी मुशिकल से पहचाना है तुमको।

मुझे जो तुम समझते हो गलत है

किसी दिन ये भी समझाना है तुमको।

की मैं अपने खौफ की हद पे खड़ा हु

अब इसके वाद पछताना है तुमको।

ज़रा सा देखनी है सूरत आईने में 

फिर उसके वाद शर्माना  है तुमको।

poetry in hindi


bahut kuchh jana hai jaan ke tumko

badi mushkil se pahchana hai tumko

mujhe jo tum smjhte ho galat

kisi din ye bhi samjhana hai tumko

ki mai apne khof ki hd pe khda hun

ab iske baad pachatana hai tumko

jra sa dekhni hai surat ayine me

fir uske bad sharmana hai tumko


Please Select Embedded Mode To Show The Comment System.*

और नया पुराने