-->

माँ के लिए बेहतरीन शायरी Mother day shayari - maa shayari

Shayari on maa - माँ के लिए बेहतरीन शायरी - दोस्तों 8 मई रविबार को मदरस डे मनाया जायेगा  अगर आप अपनी माँ के लिए कोई अच्छा सा मैसेज भेजना चाहते है तो हमारी ब्लॉग में आपको माँ के लिए सबसे बेस्ट शायरी sms , पोएट्री और किवत मिल जाएगी जिसे आप अपने व्हाट्सप्प स्टेटस , फेसबुक पोस्ट और इंस्टाग्राम कैप्शन के रूप में शेयर कर सकते हैं. 

शायरी on maa


 एक दिन किसी  ने मुझसे पूछा माँ 

की जरुरत है तुझे कब तक

मैंने अपनी आँख का एक 

आंसू दरिया में दाल दिया 

और कहा ये आंसू जब तक न मिले 

आपको तब तक 

maa ki shayari

ममता का नाम है माँ

अहसास का कनाम है माँ 

डर में हिम्मत का नामहै माँ

चोट लगे तो मरहम का नाम है माँ


हर वक़्त मिलती रहती है मुझे

अंजनी सी सजा

मैं कैसे पुछु तक़दीर से 

मेरा कसूर क्या है 

mata diwas ki shayari dikhao

सारे फूलों की खुशबू एक तरफ

माँ के पल्लू की खुशबु एक तरफ

Shayari on maa

मांग लूँ खुदा से मन्नत 

के फिर यही झा मिले 

फिर यही गोद मिले 

फिर यही माँ मिले

maa  ke liye best shayari


बचपन में माँ का चोट पर फूक मरना 

और कहना बस अभी ठीक हो जायेगा 

कसम से ऐसा मरहम आज तक नहीं बना


एक अच्छी माँ हर किसी के पास होती है 

लेकिन अच्छी औलाद हर किसी के 

पास नहीं होती 


इस तरह मेरे गुनाहो को धो देती है

माँ जब गुस्से में होती है 

रो देती है 


कोई कितना भी अच्छा क्यों न हो

माँ की कमी को कोई 

पूरा नहीं कर सकता 


हर पल ख़ुशी देती है माँ

अपनी जिंदगी से जीवन देती है माँ

भगवन क्या है माँ की पूजा करो जनाब

क्यों की भगवन को भी जनम देती है माँ


आज उसका दिन है 

जिससे मेरी जिंदगी है 


कितना भी लिखू 

उसके लिए कम है 

सच ये है की 

माँ तू है तो हम हैं 


Shayari on maa माँ के लिए बेहतरीन शायरी 

अपनी जुबान की तेज़ी 

उस माँ पर मत आज़माओ

जिसने आपको 

बोलना सिखाया है 

__________________________


कितना भी लिखू तेरे लिए 

सब कम है 

सच तो ये है की 

माँ तू है तो हम हैं 

__________________________


घेर लेने को जब भी 

बलाएँ आ गईं

ढाल बनकर 

माँ की दुआएं आ गई 

__________________________


हजारों गम हो फिर भी 

 ख़ुशी से फूल जाती है 

जब भी हस्ता है उसका लाल

माँ हर गम भूल जाती है 

__________________________


मैं कैसे हार जाऊं हार के आगे 

 मेरी कामयाबी की दुआएं 

मेरी माँ करती है खुदा से 

__________________________


मुझे तो अपने हाथ की 

हर एक ऊँगली से 

बहुत प्यार है 

न जाने माँ ने कौन

 सी ऊँगली पकड़ के 

मुझे चलना सिखाया था 

__________________________


पूछता है जब कोई मुझसे की 

दुनिया में मुहब्बत अब बची 

है कहाँ, मुस्कुरा देता हूँ मैं 

और माँ की याद आ जाती है 

__________________________


जिसके होंठो पर हमेशा 

दुआ होती है 

वो माँ है जनाब 

जो कभी खफा नहीं होती

Please Select Embedded Mode To Show The Comment System.*

और नया पुराने